fbpx
NEWHon'ble Prime Minister of India Shri Narendra Modi has inaugurated Kevadia Railway Station and flagged off 8 trains connecting Kevdia to various regions of the country on 17th January, 2021.

सरदार पटेल उद्धरण

इंडियास बिस्मार्क - बी कृष्णा द्वारा

सारांश

यह पुस्तक पाकिस्तानी हमलावरों से कश्मीर घाटी को बचाने में, चीन, तिब्बत और नेपाल के संबंध में उनके अवधारणात्मक और दूरदर्शी दृष्टिकोण और भारत में रियासतों के एकीकरण में पटेल की महत्वपूर्ण भूमिका को रेखांकित करती है।

द्वारा प्रकाशित

इंडस सोर्स बुक्स ISBN: 81- 88569- 14-3
ISBN 13: 978-81-88569-14-4

 

सरदार वल्लभभाई पटेल, नेशन बिल्डर - पी. एल. संजीवा रेड्डी, एस. एन. मिश्रा द्वारा

सारांश

वल्लभभाई पटेल, 1875-1950, भारत के राजनीतिज्ञ और राजनेता के जीवन और कार्यों पर योगदान लेख।

द्वारा प्रकाशित

भारतीय लोक प्रशासन संस्थान, 2004 ISBN: 0
ISBN 13: 0

 

लाइफ एंड वर्क ऑफ़ सरदार वल्लभभाई पटेल:  ऐ नेशंस होमज - पी. डी.सग्गी द्वारा

सारांश

यह 1923 से पहले प्रकाशित एक पुस्तक का पुनरुत्पादन है।यह सरदार वल्लभभाई पटेल के जीवन ,कार्यों और भारत के स्वतंत्रता संग्राम में उनकी भूमिका को रेखांकित करता है।

द्वारा प्रकाशित

बॉम्बे ओवरसीज पब्लिशिंग हाउस ISBN: 0
ISBN 13 :0

 

फॉर अ यूनाइटेड इंडिया: स्पीचेस ऑफ़ सरदार पटेल, 1947- 1950- पब्लीकेशन्स डिवीजन, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा

सारांश

वर्ष1947 से 1950 में आधुनिक भारतीय इतिहास का एक घटनापूर्ण कालखंड, जिसमें रियासतों को भारतीय संघ में विलय, देश के विभाजन और शरणार्थियों के स्थानांतरगमन देखा गया। इन सभी ने नए स्वतंत्र भारत के लिए एक चुनौती पेश की। यह पुस्तक भारत के पहले गृहमंत्री सरदार पटेल के महत्वपूर्ण भाषणों का वहन करती है जोह इस अवधि के दौरान देश को एकजुट और समेकित करने के उनके प्रयासों को दर्शाती है।

 

धी इन्डोमीटेबल सरदार – केवलराम लालचंद पंजाबी द्वारा

सारांश

के एल पंजाबीने विभिन्न लोग, जो अदम्य सरदार के संपर्क में थे, से बात करने के बाद उन्हें इस जीवनी द्वारा पाठकों के मन में फिर से पुनर्निर्मित किया है। सरदार वल्लभभाई पटेल की यह जीवनी आज़ादी के लिए भारत के संघर्ष की कहानी और उन घटनाओं को बताती है जिनकी वजह से आज़ादी मिली।भारत की रियासतों का आज़ाद देश में परिग्रहण कैसे हुआ, यह जानना दिलचस्प है।

द्वारा प्रकाशित

भारतीय विद्या भवन, 1990

 

धी इंडियन ट्रायम्वीरट- वी.बी.कुल्कर्णी द्वारा

सारांश

महात्मा गांधी, सरदार पटेल और पंडित नेहरू की राजनीतिक जीवनी।

 

द्वारा प्रकाशित

मुंबई, भारतीय विद्या भवन, 1969  ISBN: 0
ISBN 13 : 0

 

 

पटेल अ लाइफ – राजमोहन गाँधी द्वारा

सारांश

अ लाइफ, पहली बार बताता है, वल्लभभाई के जीवन की पूरी कहानी, एक हलचालक जिन्होंने भारत को आज़ादी दिलाने में मदद की और फिर 1947-9 में एक अविभत राष्ट्र बनाया। सरदार पटेल और उन के दृष्टिकोण से संबंधित अनुत्तरितप्रश्नों का अनावरण करती एक पुस्तक।

 

द्वारा प्रकाशित

नवजीवन पब्लिशिंग हाउस ISBN: 8172291388
ISBN13: 978172291389

 

माय रेमिनिसेंसेस ऑफ़ सरदार पटेल - वी. शंकर द्वारा

सारांश

भारत को एक जुट करने का एक उपाख्यान

द्वारा प्रकाशित

मैकमिलनकंपनीऑफ़इंडियाली.केलिएएस.जी.वासानी ISBN: 333900790

 

इनसाइड स्टोरी ऑफ़ सरदार पटेल: धी डायरी ऑफ़ मणिबेन पटेल, 1936- 50 – प्रभा चोपड़ा द्वारा

सारांश

यह सरदार पटेल की बेटी की पहली अज्ञात डायरी का प्रकाशन है। मणिबेन आमतौर पर हर जगह पटेल के साथ रहती थीं और उन की अधिकांश बैठकों में सरदार के साथ मौजूद होती थीं। इसलिए यह बैठकों में क्या होता था और सरदार के निजी दृष्टिकोण और विभिन्न ऐतिहासिक और संवेदनशील मुद्दों पर अंतरतम विचारो जो वह अपने करीबी दोस्तों और सहकर्मियों के सामने भी व्यक्त नहीं कर सकते थे, वह इन सब से वाकिफ थीं।

द्वारा प्रकाशित

विज़न बुक्स प्रा. लिमिटेड, 2002 ISBN: 81709

 

सरदार वल्लभभाई पटेल धी मेकर ऑफ़ यूनाइटेड इंडिया – रविंद्र कुमार द्वारा

सारांश

सरदार वल्लभ भाई पटेल भारत के सामाजिक और राजनीतिक क्षेत्रों में अभी भी जीवित हैं। यह उन उपलब्धियों का परिणाम है जो सरदार पटेलने राष्ट्र और समाज के लिए हासिल की; उन्हें अपने समकालीनोंके बीच वास्तविक और प्रभावी सोच के साथ एक अग्रणी व्यक्तिका दर्जा प्राप्त है। सरदार पटेल ने उचित और कुशल तरीके से 554 विषम बिखरी रियासतों को भारतीय संघ में विलय किया।

द्वारा प्रकाशित

ज्ञान पब्लिशिंग हाउस ISBN: 81-212-0874-2

 

सरदार पटेल एंड इंडियन इंडिपेंडेंस – माइकल च. ल्योन, पि. अन. चोपड़ा द्वारा

सारांश

सरदार पटेल पर एक विदेशी विद्वान द्वारा पहला काम, पुस्तक उपलब्ध सामग्री की आलोचनात्मक रूप से जांच करती है और सरदार पटेल को 560 रियासतों को भारतीय संघ में विलय करने के स्मारकीय कार्य के लिए प्रशंसा करती है। लेखक देश की स्वतंत्रता प्राप्त करने में और उस के बाद के महत्वपूर्ण वर्षों में सरदार की भूमिका की अधिक सराहना करता है।

द्वारा प्रकाशित

कोणार्क पब्लिशर्स प्रा लिमिटेड ISBN: 8122004407
ISBN13: 9788122004403

 

धी शैडो ऑफ़ धी ग्रेट गेम धी अन टोल्ड स्टोरी ऑफ़ इंडियास पार्टीशन – नरेंद्र सिंघ सरीला द्वारा

Summary

Perhaps the first work by a foreign scholar on Sardar Patel, the book critically examines the available material and admires Sardar Patel for tactfully handling the monumental task of merging 560-odd princely states in to the Indian Union. The author makes out a care for greater appreciation of the Sardar's role in attaining the country's independence and the critical years that followed.

द्वारा प्रकाशित

बेसिक बुक्स
ISBN 0786719125 (ISBN13: 9780786719129)

 

सरदार वल्लभभाई पटेल एंड नेशनल इंटीग्रेशन - अस.ऐ. पालेकर द्वारा

सारांश

सरदार वल्लभभाई पटेल एक महान प्रतिभा थे और उन्होंने भारत को एक जुट करने के महान कार्य को सफलतापूर्वक पूरा किया, जो युगों से एक सपना था और स्वतंत्रता प्राप्ति के बाद भी असंभव लग रहा था। वर्तमान काम मुख्य रूप से धर्मनिरपेक्षता, राष्ट्रवाद और राष्ट्रीय एकता आदि के बारे में उनके राजनीतिक विचारों पर ध्यान केंद्रित करने का एक प्रयास है।

 

द्वारा प्रकाशित

सीरियल पब्लिकेशन ISBN: 8183871879
ISBN13: 9788183871877

 

थीमेटिक वोलुमस ओन सरदार वल्लभभाई पटेल इकनोमिक पालिसी एंड फॉरेन अफेयर्स - पी. अन. चोपड़ा, प्रभा चोपड़ा द्वारा

सारांश

सरदार पटेल का देश के आर्थिक मामलों में बहुत व्यावहारिक दृष्टिकोण था। अधिक उत्पादन और समान वितरण उनकी आर्थिक नीति का मुख्य आधार था।वह श्रम,पूँजी और सरकार को अपने शक्तिशाली प्रभाव से एक साथ जोड़ रहे थे ताकि आम आदमी को राहत देने के लिए भरपूर उत्पादन सुनिश्चित किया जा सके। कैबिनेट की बैठकों में कई बार उन्होंने भारत की आर्थिक नीति पर अपने विचार को नेहरू के सामने रखा, लेकिन उनका पालन नहीं किया गया।

द्वारा प्रकाशित

कोणार्क पब्लिशर्स प्राइवेट ली. ISBN : 8122006833
ISBN13 : 978122006834

 

सरदार पटेल मेमोरियल लेक्चर्स- पब्लीकेशन्स डिवीज़न, सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा

सारांश

सरदार पटेल मेमोरियल लेक्चर्स की शुरुआत 1955 में ऑल इंडिया रेडियो द्वारा भारत के लौह पुरुष की स्मृतिमें की गई थी, जो भारत के पहले सूचना और प्रसारण मंत्री भी थे।

द्वारा प्रकाशित

प्रकाशन विभाग, सूचना मंत्रालय

 

हिस्ट्री ऑफ़ फ्रीडम मूवमेंट इन इंडिया (1857- 1947) – शैलेन्द्र नाथ सेन द्वारा

सारांश

पुस्तक में सरदार वल्लभभाई पटेल, गांधीजी जैसी प्रमुख हस्तियों के जीवनी संबंधी जानकारी हैं, कांग्रेस सत्र और कांग्रेस अध्यक्षों की कालानुक्रमिक सूची, महत्वपूर्ण घटनाओं की कालानुक्रमिक सूची और स्वतंत्र भारत की उपलब्धियों और विफलताओं का वर्णन करनेवाली एक पोस्टस्क्रिप्ट के साथ एक विस्तृत ग्रंथ सूची।

 

द्वारा प्रकाशित

न्यू ऐज इंटरनेशनल (पी) लिमिटेड ISBN: 8122425763
ISBN13: 9788122425765

 

धी स्टोरी ऑफ़ सरदार पटेल – प्रभा चोपड़ा द्वारा

सारांश

यह पुस्तक भारत के लौह पुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल के जीवन और कार्यों पर प्रकाश डालती है।

यह सरदार पटेल के जीवन और स्वतंत्रता आंदोलन और भारत के एकीकरण में उनकी भूमिका के विभिन्न पहलु ओंसे गुज़रती है।

द्वारा प्रकाशित

पब्लिकेशन डिवीज़न, मिनिस्ट्री ऑफ़ इनफार्मेशन & ब्राडकास्टिंग, भारत सरकार
ISBN : 8123013035
ISBN13 : 9788123013039

 

सरदार पटेल ऐ फोटग्राफिक एल्बम - पी. एन. चोपड़ा द्वारा

सारांश

इस फोटो-एल्बम को उचित ऐतिहासिक परिप्रेक्ष्य में उनके योगदान को वस्तुनिष्ठ दृश्य से देखने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

द्वारा प्रकाशित

आर्यन बुक्स इंटरनेशनल ISBN: 8173051836
ISBN13: 9788173051838

एंड्योरिंगरेलेवंसऑफ़सरदारपटेल - एन.ऐ.पालखीवाला द्वारा

सारांश

1992 में एन ए पालखीवाला द्वारा वितरित सरदार पटेल मेमोरियल लेक्चर पर आधारित पुस्तक में सरदार पटेल, जिन्होंने भारतीय राज्योंके एकीकरण में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, की प्रासंगिकता पर प्रकाश डाला गया है।

द्वारा प्रकाशित

पब्लिकेशन डिवीज़न, मिनिस्ट्री ऑफ़ इनफार्मेशन & ब्राडकास्टिंग, भारत सरकार

 

लीडर बाइ मेरिट – अब्दुल मजीद खान द्वारा

सारांश

1921 से 1946 तक उनके सभी महत्वपूर्ण भाषणों सहित सरदार पटेल के आजीविका और चरित्र के साथ-साथ उन के विचारों और आदर्शों का अध्ययन।

द्वारा प्रकाशित

इंडियन प्रिंटिंग वर्क्स, 1946, लाहौर

 

सरदार पटेल: रिबेल एंड रूलर-  बी. के. अहलुवालिआ द्वारा

सारांश

यह एक महान राजनेता के बारे में है – अपने राजनीतिक जीवन और एकजुट भारत बनाने के उन के बहुमुखी प्रयासों के बारे में।

द्वारा प्रकाशित

अक्बे ग्रुप, 1981, नई दिल्ली

 

पोलिटिकल थिंकर्स ऑफ़ मॉडर्न इंडिया – वरिंदर ग्रोवर द्वारा

सारांश

आधुनिक भारत के राजनीतिक विचारक: वल्लभभाई पटेल, खण्ड 18

द्वारा प्रकाशित

दीप और दीप प्रकाशन, 1993  ISBN: 8171004296, 9788171004294

 

सरदार वल्लभभाई पटेल: फ्रॉम सिविक टू नेशनल लीडरशिप – देवव्रत नानूभाई पाठक

सारांश

गांधीजी के एक अनुयायीसे एक राष्ट्रीय नेता तक की उन की यात्रा।

द्वारा प्रकाशित

नवजीवन पब्लिकेशन हाउस, १९८०

 

ट्रांसफर ऑफ़ पावर इन इंडिया (वि पी मेनोन) – वि पी मेनोन द्वारा

सारांश

लेखक सितंबर1939 से अगस्त 1947 तक की घटनाओं के बारे में विस्तार से बताता है, भारत की स्वतंत्रता के लिए अंतिम चरण के दौरान और वास्तव में कैसे सत्ता हस्तांतरित की गई थी।

द्वारा प्रकाशित

ओरिएंट लॉन्गमैन लिमिटेड ISBN :8125008845

 

सरदार पटेल: धी मन एंड हिस कंटेम्पोररीएस - आर. के.मूर्ति द्वारा

द्वारा प्रकाशित

स्टरलिंग पब्लिशर्स, नई दिल्ली, 1976

 

Close Menu