fbpx
NEWHon'ble Prime Minister of India Shri Narendra Modi has inaugurated Kevadia Railway Station and flagged off 8 trains connecting Kevdia to various regions of the country on 17th January, 2021.

आरोग्य वन

आरोग्य वन: प्रागैतिहासिक काल से ही, मनुष्य ने औषधीय पौधों के महत्व को महसूस किया है। आधुनिक के साथ-साथ आयुर्वेद जैसी पारंपरिक औषधीय पद्धतियाँ प्राचीन काल से ही स्वास्थ्य को बनाए रखने के लिए जड़ी-बूटियों का उपयोग करती रही हैं। कुछ विशेष स्वास्थ्य स्थितियों, उपचार एवं मालिश, तथा  निवारक उपचारों के लिए भी इनका प्रयोग किया जाता रहा है।

इन औषधीय पौधों के महत्व को समझते हुए, स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के पास आरोग्य वन (हर्बल गार्डन) को विकसित किया गया है, जो लगभग 17 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है। आरोग्य वन औषधीय पौधों और स्वास्थ्य से जुड़ी प्राकृतिक छटाओं की एक विस्तृत श्रृंखला प्रदर्शित करता है। केवड़िया में इस आकर्षण का उद्देश्य, इंसानों की भलाई में पौधों द्वारा निभाई जाने वाली  महत्वपूर्ण भूमिका के बारे में जागरूकता बढ़ाना है। इसके अलावा किसी व्यक्ति के स्वास्थ्य का अभिन्न अंग होने के कारण योग, आयुर्वेद और ध्यान पर भी जोर दिया गया है।

योग के महत्व पर जोर देने के लिए आरोग्य वन के प्रवेश द्वार पर सूर्य नमस्कार के सभी 12 आसन मानव आकार में दर्शाए गए हैं। इनका अभ्यास स्वस्थ जीवन के लिए दैनिक रूप से किया जाता है। आगंतुकों के प्रवेश की सूचना के लिए तथा उन्हें विरासत एवं हमारे दैनिक जीवन में औषधीय पौधों के महत्व को समझाने के लिए डिजिटल सूचना केंद्र की स्थापना की गई है।

आरोग्य वन का मुख्य आकर्षण ‘औषध मानव है। यह एक मानव शरीर का आराम की मुद्रा में एक विशाल त्रि-आयामी लेआउट है। प्रत्येक मानव अंग को एक औषधीय पौधे द्वारा दर्शाया गया है जो उस विशेष अंग के लिए लाभकारी  होता है। इसलिए इन पौधों को शरीर के विशिष्ट हिस्से पर लगाया गया है ताकि आगंतुक उस विशेष अंग के चिकित्सीय उपचार के लिए उपयोग में लाए जाने वाले विशिष्ट पौधों के बारे में समझ सकें।

आरोग्य वन के भीतर पांच उद्यान हैं- गार्डन ऑफ़ कलर्स, अरोमा गार्डन, योग गार्डन, अल्बा गार्डन और ल्युटिया गार्डन।

इंटीरियर लैंडस्केप के महत्व के बारे में जागरूकता फैलाने के लिए इंडोर प्लांट्स  सेक्शन का निर्माण किया गया है। एक सुखद और शांत वातावरण प्रदान करने में इंटीरियर लैंडस्केप एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है जिसमें कोई टहल सके और आराम कर सके। यह एक आधी ढंकी हुई संरचना है। साथ ही, आरोग्य वन में परंपरागत चिकित्सा के ज्ञान को उसके वास्तविक रूप में समझने के लिए, गुजरात वन विभाग ने केरल के संथिगिरी आश्रम के साथ हाथ मिलाया है। यह एक ऐसा संगठन है जिसके पास आयुर्वेद, सिद्ध और योग की प्राचीन उपचार पद्धतियों में 60 से अधिक वर्षों का अनुभव है। यह उद्यम भारत और विदेश के आगंतुकों के लिए आयुर्वेद, सिद्ध, पंचकर्म, योग, मर्म और प्राकृतिक चिकित्सा पर आधारित समग्र स्वास्थ्य सेवा प्रदान करता है। इसलिए, आएं और नर्मदा घाटी के निर्मल शांत वातावरण में स्थित आरोग्य वन-संथिगिरी वेलनेस सेंटर में वास्तविक पारंपरिक उपचार का अनुभव प्राप्त करें।

आरोग्य वन-संथिगिरी वेलनेस सेंटर अथवा आरोग्य कुटीर चिकित्सीय उपचार और समाधान प्रदान करता है जैसे कि, धरा, स्नेहपानम, सिरोवस्ती, पिझिचिल, उदावर्थनम, मर्मचिकित्सा, नास्यम, कर्णपूरनम, थारपानम, न्जवर्राकीज्ही, हर्बल प्रवाह स्नान, रसायन चिकित्सा, मेरुदंड स्नान तथा चिकित्सीय मालिश जो केरल में बहुत लोकप्रिय हैं। इस आरोग्य वन या यूँ कहें कि हर्बल गार्डन से गुजरते समय, संगीत बजाया जाता है ताकि आपको वास्तविक उष्णकटिबंधीय वन परिवेश का आनंद प्राप्त हो सके।

Close Menu